उज्जवल पाटनी Ujjwal Patni Quotes In Hindi 2021

उज्जवल पाटनी Ujjwal Patni Quotes In Hindi 2021

Dr. Ujjwal Patni Quotes In Hindi 

Ujjwal Patni Quotes In Hindi

डॉउज्जवल पाटनी के बारे में

NAME: DR. UJJWAL PATNI 
OCCUPATION: Motivational Speaker, Author & International Trainer 
BIRTHDAY: 13 November, 1973 
BIRTH PLACE: Chhattisgarh 
COUNTRY: India 
AGE (2020): 46 Years Old 


डॉ. उज्ज्वल पाटनी एक motivational speaker, international trainer और एक popular author हैं। उनका जन्म छत्तीसगढ़ में एक जैन परिवार में हुआ था। उज्जवल पाटनी अपने माता-पिता के तीन संतानों में से सबसे बड़े संतान थे। वह बचपन से ही अपने तीनों भाइयों में से सबसे अलग कुछ बड़ा करने का लक्ष्य रखते थे। 

डॉ. उज्ज्वल पाटनी अपने सेमिनार में भी कहते है की ” किसी भी इंसान को अपनी वास्तविक क्षमता का एहसास होना चाहिए और अपने जीवन के कैरियर में असाधारण बनने के लिए तैयार होना चाहिए।” और ये इस बात को दृढ़ता से समर्थन भी करते है। 

उज्जवल पाटनी अपने परिवार में से इंग्लिश मीडियम में पढ़ाई करने वाले सबसे पहले संतान थे। वह बचपन से ही एवरेज स्टूडेंट रहे हैं और पढ़ाई से ज्यादा उनको चैस ड्रामा और साइंस में ज्यादा इंटरेस्ट था। स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद उनकी इच्छा डेंटल में जाने की थी इसी वजह से उन्होंने स्कूली पढ़ाई के बाद डेंटल कॉलेज में एडमिशन लिया। 

उन्होंने dental surgery with cosmetics की बचलर डिग्री प्राप्त की थी साथ ही साथ उन्होंने Masters in Business Administration, Masters in Political Science, Certifications in Consumer protection, human rights और भी डिग्री हासिल की है। 

10 साल तक डेंटल की प्रैक्टिस करने के बाद भी उनको अंदर से वह खुशी नहीं मिल रही थी। उसके बाद उन्होंने अपने बचपन के passion को फॉलो करना स्टार्ट किया। 

अपने बचपन के इंटरेस्ट को फॉलो करते करते उन्होंने किताबे लिखना स्टार्ट किया। वे इंडिया के सबसे youngest Indian motivational author बने। उनकी किताब 10 से ज्यादा भाषाओं में पब्लिश हुई और सिर्फ यही नहीं इंडिया के बाहर भी उनकी किताब पब्लिश हुई और बाहर के लोगों ने भी इनकी किताब को खूब पसंद किया। 

उनकी किताब को National institute of Technology द्वारा prestigious engineering और management institutions में पढ़ाई में शामिल किया गया। और गवर्नमेंट ने स्टूडेंट और टीचर को मोटिवेट करने के लिए इनकी किताब को 5000 से ज्यादा स्कूल में distributed की गई। 

डॉ. उज्ज्वल पाटनी के अवॉर्ड 

डॉ. उज्ज्वल पाटनी एक motivational author और एक कॉर्पोरेट ट्रेनर हैं। उनका काम काफी सराहनीय है और इसी वजह से उन्हें कई पुरस्कारों से सम्मानित भी किया गया है। 

Management Teachers Consortium Global ने डॉ उज्ज्वल पाटनी को Greatest Corporate Trainer के अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था। 

भारत सरकार द्वारा डॉ उज्ज्वल पाटनी को पंडित सुंदरलाल शर्मा साहित्य पुरस्कार से सम्मानित किया गया। और वे भारत में इस अवॉर्ड से सम्मानित होने वाले सबसे कम उम्र के व्यक्ति है। 

उन्हें 2006 में कमल पात्रा पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। 

Best Ujjwal Patni Quotes In Hindi

अपने से बड़े और सफल लोगों से तो हर कोई सम्मान और विनम्रता से पेश आता है। असली श्रेष्ठता तो तब है जब आप सामान्य लोगों से वैसा ही व्यवहार करते हैं।
मैं आपके जैसा ही आम आदमी हूं। आपका दोस्त हूं ,कभी जीतता, कभी हारता, कभी गिरता ,कभी उठता लेकिन उम्मीदें जिंदा है, डटा हुआ हूं।
डरिए, घबराइए, हताश होइए ये सब स्वाभाविक है। मगर फिर भी आगे बढ़िए और वो कार्य कीजिए, जिनको करना जरूरी है।
सफलता तब मिलती है जब आपके सपने; आप के बहाने से बड़े होते हैं।
दूसरों के गलत एवं सही निर्णय से सीखिए। दुनिया में किसी की भी उम्र इतनी लंबी नहीं होती, कि वह हर गलती स्वयं करके स्वयं सीखें।
हर व्यक्ति किसी ना किसी क्षेत्र में जीनियस होता है; किसी को जल्दी पता लगता है तो किसी को देर से।
हर वक्त स्वयं को एहसास दिलाइए कि आप एक महत्वपूर्ण इंसान है और ईश्वर ने आपको किसी खास मकसद से इस दुनिया में भेजा है।
सफलता के लिए जीनियस से कहीं ज्यादा जरूरी, कॉमनसेंस होना।
यदि दूसरों को यह लगे कि आप के समय की कोई कीमत नहीं है, तो अगले ही क्षण से वो आप का दुरुपयोग शुरू कर देंगे।
यदि जीवन में लोकप्रिय होना है तो सबसे ज्यादा "आप" शब्द का, उसके बाद "हम" शब्द का और सबसे कम "मैं" शब्द का उपयोग करना चाहिए।
रुकना मृत्यु है और चलना जिंदगी।
बड़े सपनों को कभी छोटी सोच वालो से चर्चा मत करो। जिसकी सलाह मांग रहे हो, उसकी भी इतनी हैसियत होनी चाहिए कि वो बड़े सपनों को समझ सके।
अपने आप को पीड़ित की तरह प्रस्तुत मत कीजिए। मेरा भाग्य खराब है, मेरे साथ ही ऐसा क्यों होता है ? मुझे हमेशा धोखा मिलता है। इन लाइनों का उपयोग इंसान अपनी कमियों को छुपाने के लिए करता है।
मृत्यु के बाद अपनी श्रद्धांजलि में क्या सुनना चाहेंगे? जो सुनना चाहेंगे, वैसी ही जिंदगी आज से जीना शुरु कीजिए।
मोटिवेशन भोजन की तरह है; एक बार में हजम नहीं होती। अतः बार-बार आपको नियमित अंतराल में मिलनी चाहिए।
बिना प्रयास के सिर्फ आप नीचे गिर सकते हैं, ऊपर नहीं उठ सकते। यही गुरुत्वाकर्षण का भी नियम है और जीवन का भी।
लोग सोचते ही रह गए और जिंदगी हाथ से निकल गई; कम सोचिए, ज्यादा करिए।
औसत टीम एक सुपर Idea को औसत बना सकती है, शानदार टीम एक औसत Idea को सुपर बना सकती है।
अपनी समस्याओं को हर किसी के साथ मत बांटिइए, कोई मीठा बोल रहा है या सहानभूति दिखा रहा है, तो इसका अर्थ यह नहीं है कि वह आपका शुभचिंतक है।
मंजिलें पैरों की ताकत से नहीं हौसलों की ताकत से हासिल होती है।
कम शिकायतें, कम बहाने और कम टालमटोल सफलता पाने का यही मूल मंत्र है।
लोग आपको आदर नहीं देंगे, जब तक आप स्वयं को आदर नहीं दोगे। लोग आप की कीमत नहीं समझेंगे, जब तक आप अपनी कीमत नहीं समझेंगे। लोग आपकी प्रतिभा नहीं पहचानेंगे, जब तक आप अपनी प्रतिभा नहीं पहचानोगे।
यदि बड़ा बनना हो तो स्वयं से कमतर लोगों के साथ संगति करके, boss बनने की बजाय स्वयं से बेहतर लोगों की संगति करना, भले ही कुछ अवसरों पर आपको कम महत्व मिले।
यदि कोई कहता है कि उससे कभी कोई गलती नहीं हुई तो समझिए कि उसने कभी कोई नया कार्य नहीं किया।
दूसरों को बर्बाद करके बड़ा बनने की सोच रखने से बेहतर है। खुद बड़े हो जाइए, कि दूसरे स्वयं छोटे हो जाएंगे।
यदि आप मेरे पास आकर किसी और की बुराई करते हैं, तो मुझे कोई संदेह नहीं कि आप दूसरों के पास जाकर मेरी बुराई करते होंगे।
किसी से भी कुछ मांगने से मत हिचकिचाओ, किसी से प्रेरणा मांगो, किसी से अवसर मांगो। याद रखो ,दुनिया में किसी की हैसियत बोलने से ज्यादा की नहीं होती है।
हम हमेशा इस बारे में सोचते हैं कि हमारे पास क्या नहीं है। हम इस बारे में बहुत कम सोचते हैं कि हमारे पास कितना है।
ज्यादा कहना और ज्यादा सहना दोनों ही नुकसानदायक है।
नालेज में किया गया इन्वेस्टमेंट सबसे ज्यादा रिटर्न देता है, क्योंकि सारी समृद्धि वहीं से पैदा होती है।
जो मुद्देआपके नियंत्रण से बाहर है, उनकी चिंता से मुक्त हो जाइए। और जो मुझे आपके नियंत्रण में है, उनकी चिंता करने की बजाय समाधान पर कार्य कीजिए।
बड़े निर्णय लेते हुए डरना गलत नहीं है, डर के कारण बड़े निर्णय ना लेना गलत है।
किसी भी अच्छी Idea के लिए कोई बुरा वक्त नहीं होता, किसी भी बुरे Idea के लिए कोई भी वक्त अच्छा नहीं होता।
किसी का "ना" सुनकर निराश मत होना, कुछ "ना" के बाद "हां" तुम्हारा इंतजार कर रही है।
सिर्फ सोच ही इतनी शक्तिशाली होती है जो सही और गलत में भेद कर सकती है, जो व्यक्ति ऊपर उठा सकती है और नीचे गिरा सकती हैं।
जीत हो या हार, रहो तैयार।
संसार में दो तरह के लोग हैं, वो जो जीवन के हर पल को जिंदादिली से जी रहे हैं। दूसरे वो जो इसलिए जी रहे हैं क्योंकि वह मरे नहीं है।
बीते कल से सीखो, आने वाले कल का प्लान करो और आज डटकर जियो।
सफलता मुझे घमंड में चूर ना करें और असफलता में मुझ में हीनभावना ना भरे; मैं ऐसी श्रेष्ठता पाना चाहता हूं।
जब कोई व्यक्ति कमजोरी, बहानेबाजी, टाइमपास करके यह सोचता है कि वह किसी को बेवकूफ बनाने में सफल हो गया, वह किसी और को नहीं, बल्कि अपनी जिंदगी को बेवकूफ बना रहा है।
दूसरों की मदद करते हुए, यदि दिल में खुशी हो तो वही सेवा है बाकी सब दिखावा है।
अपने बच्चों को बड़ा gift देने के पूर्व उन्हें कुछ दायित्व सौंपिये और उन्हें तड़पाइए। यदि आप सरलता से हर चीज, उन्हे खरीदेंगे। तो उसका मूल्य कभी समझ नहीं आएगा।
जिंदा होने और जिंदादिली होने में बहुत फर्क है।
कुछ क्षणो के temporary तनाव से परेशान होकर कोई ऐसा कदम मत उठाइए। जिससे जिंदगी में परमानेंट तनाव हो जाए।
जिंदगी में चौके लगाने के लिए मौके का इंतजार मत कीजिए। खुद मौका बनाइए और चौका लगाइए।
जीवन में सबसे बड़ी ख़ुशी उस काम को करने में है, जिसे लोग कहते हैं कि तुम नहीं कर सकते हो।
जिनके जीवन में कोई सफलता नहीं, ऐसे ज्ञानी की सलाह मानना घातक है।
कुछ ऐसा काम करें कि आपके पेरेंट्स अपनी प्रार्थना में कहें हर जन्म में आपके जैसी संतान मिले।
यदि आप बुद्धिमान हैं तो लोग सराहना करेंगे यदि आप समृद्ध हैं तो लोग इा करेंगे यदि आप शक्तिशाली हैं तो लोग डरेंगे यदि व्यव्हार अच्छा है तो लोग याद करेंगे ।
स्वयं का दर्द महसूस होना जीवित होने का प्रमाण है दूसरों का दर्द महसूस होना इंसान होने का प्रमाण है .
सुनने का धीरज है तो मामले सुलझ जाएंगे सुनाने का जोश दिखाओगे , तो और उलझ जाएंगे .
परफेक्ट परिस्थिति का इंतज़ार मत कीजिये , आज से ही अपने लक्ष्यों को पाने के लिए पूरी ताकत झोक दीजिये ।
किसी के नकार देने से अपने आईडिया को हल्का मत समझिए , दुनिया में हर बड़े आईडिया को पहले नकारा गया था ।

Post a comment

0 Comments